Cyclone Mandous: चक्रवात मैंडूस ने दी दस्तक, तटीय तमिलनाडु में भारी बारिश, स्कूल-कॉलेज बंद

0
52




चक्रवात तूफान
– फोटो : अमर उजाला

ख़बर सुनें

चक्रवाती तूफान मैंडूस ने शुक्रवार देर रात मामल्लापुरम के पास दस्तक दी, जिससे तटीय तमिलनाडु में मध्यम से भारी बारिश हुई। आईएमडी क्षेत्रीय मौसम विज्ञान केंद्र के प्रमुख एस बालाचंद्रन ने कहा कि चक्रवाती तूफान के दस्तक देने की प्रक्रिया शुरू हो गई है, यह जारी है। चक्रवाती तूफान के भूमि में प्रवेश के प्रभाव के तहत, कई तटीय क्षेत्रों में मध्यम से भारी वर्षा, आंधी हवा के साथ देखी गई। 

लैंडफॉल के बाद शनिवार को एक गहरे अवसाद और बाद में एक अवसाद के बाद मैंडूस कमजोर हो जाएगा। इससे पहले शुक्रवार को यह प्रचंड चक्रवाती तूफान से चक्रवाती तूफान के रूप में कमजोर पड़ गया था। चक्रवात के लैंडफॉल की प्रक्रिया शुरू होते ही चेन्नई में कुछ जगहों पर भारी बारिश और तेज आंधी का दौर शुरू हो गया। चेन्नई के पट्टीनापक्कम में तूफान के चलते तेज बारिश हुई और आंधी चली।   
 

आईएमडी ने कहा कि चेन्नई, तमिलनाडु में चक्रवाती तूफान मैंडूस की लैंडफॉल प्रक्रिया जारी है और कुछ ही घंटों में पूरी हो जाएगी। अगले तीन घंटों के दौरान तमिलनाडु के रानीपेट्टई, वेल्लोर, विलुप्पुरम, तिरुवन्नामलाई, सलेम, कल्लाकुरिची, तिरुपट्टूर जिलों और पुडुचेरी में कुछ स्थानों पर मध्यम से भारी बारिश होने की संभावना है। 

कई राज्यों में रेड अलर्ट
इसको लेकर तमिलनाडु, पुडुचेरी और आंध्र प्रदेश में रेड अलर्ट जारी किया गया है। इन राज्यों के कई जिलों में स्कूल-कॉलेजों में आज छुट्टी घोषित की गई है। चेन्नई स्थित क्षेत्रीय मौसम विज्ञान केंद्र ने अगले तीन घंटों में तिरुवल्लुर, चेन्नई, चेंगलपट्टू और कांचीपुरम जिलों में कुछ स्थानों पर भारी बारिश होने की संभावना जताई।

क्षेत्रीय मौसम विज्ञान केंद्र के अनुमान के मुताबिक, रानीपेट्टई, वेल्लोर, तिरुपत्तर, कृष्णागिरी, धर्मपुरी, तिरुवन्नामलाई, कल्लाकुरिची, अरियालुर, पेराम्बलुर, तिरुचिरापल्ली, करूर, इरोड, सलेम में हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना है। अगले तीन घंटों में तमिलनाडु के नमक्कल, थिरुपुर, कोयम्बटूर, नीलगिरी, डिंडीगुल, थेनी, मदुरै, शिवगंगई, विरुधुनगर और तेनकासी जिलों में हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है।

वहीं, मौसम विभाग (IMD) ने तमिलनाडु के तीन जिलों चेंगलपट्टू, विल्लुपुरम और कांचीपुरम में आज रेड अलर्ट जारी किया गया। अनुमान के मुताबिक चक्रवात मैंडूस के कारण अधिकांश स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश और कुछ स्थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा हो सकती है। जबकि तमिलनाडु और पुडुचेरी के उत्तर तटीय इलाकों में अलग-अलग जगहों पर मूसलाधार बारिश होने की संभावना जताई गई थी।

10 जिलों में एनडीआरएफ की टीमें तैनात
मौसम विभाग के अलर्ट के बाद तमिलनाडु के 10 जिलों में एनडीआरएफ और राज्य सुरक्षा बल की 12 टीमों को तैनात किया गया है। चक्रवात ‘मैंडूस’के मद्देनजर चेन्नई, विल्लुपुरम, कुड्डालोर और कांचीपुरम जिलों में सभी स्कूल-कॉलेजों को आज बंद रखने का फैसला किया गया है। चक्रवात मैंडूस के आज मध्यरात्रि तक आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा तट को पार करने की संभावना है।

IMD ने जारी की चेतावनी
चक्रवात मंडौस के मामल्लापुरम के आसपास पुडुचेरी और श्रीहरिकोटा के बीच उत्तर तमिलनाडु, पुडुचेरी और आस-पास के दक्षिण आंध्र प्रदेश के तटों को पार करने की संभावना है। आज आधी रात या कल सुबह 65-75 किमी से लेकर 85 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चल सकती है। मौसम विज्ञान के उप महानिदेशक (चक्रवात पर क्षेत्रीय मेट्रोलॉजी केंद्र) एस बालचंद्रन ने बताया कि हवा की गति लगभग 14 किमी प्रति घंटे है। चेन्नई और आसपास के इलाकों में 50-60 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवाएं चल रही हैं। लैंडफॉल प्रक्रिया शुरू हो गई है। बारिश और तेज़ हवाएं जारी रहेंगी।
 

विस्तार

चक्रवाती तूफान मैंडूस ने शुक्रवार देर रात मामल्लापुरम के पास दस्तक दी, जिससे तटीय तमिलनाडु में मध्यम से भारी बारिश हुई। आईएमडी क्षेत्रीय मौसम विज्ञान केंद्र के प्रमुख एस बालाचंद्रन ने कहा कि चक्रवाती तूफान के दस्तक देने की प्रक्रिया शुरू हो गई है, यह जारी है। चक्रवाती तूफान के भूमि में प्रवेश के प्रभाव के तहत, कई तटीय क्षेत्रों में मध्यम से भारी वर्षा, आंधी हवा के साथ देखी गई। 

लैंडफॉल के बाद शनिवार को एक गहरे अवसाद और बाद में एक अवसाद के बाद मैंडूस कमजोर हो जाएगा। इससे पहले शुक्रवार को यह प्रचंड चक्रवाती तूफान से चक्रवाती तूफान के रूप में कमजोर पड़ गया था। चक्रवात के लैंडफॉल की प्रक्रिया शुरू होते ही चेन्नई में कुछ जगहों पर भारी बारिश और तेज आंधी का दौर शुरू हो गया। चेन्नई के पट्टीनापक्कम में तूफान के चलते तेज बारिश हुई और आंधी चली।   

 

आईएमडी ने कहा कि चेन्नई, तमिलनाडु में चक्रवाती तूफान मैंडूस की लैंडफॉल प्रक्रिया जारी है और कुछ ही घंटों में पूरी हो जाएगी। अगले तीन घंटों के दौरान तमिलनाडु के रानीपेट्टई, वेल्लोर, विलुप्पुरम, तिरुवन्नामलाई, सलेम, कल्लाकुरिची, तिरुपट्टूर जिलों और पुडुचेरी में कुछ स्थानों पर मध्यम से भारी बारिश होने की संभावना है। 

कई राज्यों में रेड अलर्ट

इसको लेकर तमिलनाडु, पुडुचेरी और आंध्र प्रदेश में रेड अलर्ट जारी किया गया है। इन राज्यों के कई जिलों में स्कूल-कॉलेजों में आज छुट्टी घोषित की गई है। चेन्नई स्थित क्षेत्रीय मौसम विज्ञान केंद्र ने अगले तीन घंटों में तिरुवल्लुर, चेन्नई, चेंगलपट्टू और कांचीपुरम जिलों में कुछ स्थानों पर भारी बारिश होने की संभावना जताई।

क्षेत्रीय मौसम विज्ञान केंद्र के अनुमान के मुताबिक, रानीपेट्टई, वेल्लोर, तिरुपत्तर, कृष्णागिरी, धर्मपुरी, तिरुवन्नामलाई, कल्लाकुरिची, अरियालुर, पेराम्बलुर, तिरुचिरापल्ली, करूर, इरोड, सलेम में हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना है। अगले तीन घंटों में तमिलनाडु के नमक्कल, थिरुपुर, कोयम्बटूर, नीलगिरी, डिंडीगुल, थेनी, मदुरै, शिवगंगई, विरुधुनगर और तेनकासी जिलों में हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है।

वहीं, मौसम विभाग (IMD) ने तमिलनाडु के तीन जिलों चेंगलपट्टू, विल्लुपुरम और कांचीपुरम में आज रेड अलर्ट जारी किया गया। अनुमान के मुताबिक चक्रवात मैंडूस के कारण अधिकांश स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश और कुछ स्थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा हो सकती है। जबकि तमिलनाडु और पुडुचेरी के उत्तर तटीय इलाकों में अलग-अलग जगहों पर मूसलाधार बारिश होने की संभावना जताई गई थी।

10 जिलों में एनडीआरएफ की टीमें तैनात

मौसम विभाग के अलर्ट के बाद तमिलनाडु के 10 जिलों में एनडीआरएफ और राज्य सुरक्षा बल की 12 टीमों को तैनात किया गया है। चक्रवात ‘मैंडूस’के मद्देनजर चेन्नई, विल्लुपुरम, कुड्डालोर और कांचीपुरम जिलों में सभी स्कूल-कॉलेजों को आज बंद रखने का फैसला किया गया है। चक्रवात मैंडूस के आज मध्यरात्रि तक आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा तट को पार करने की संभावना है।

IMD ने जारी की चेतावनी

चक्रवात मंडौस के मामल्लापुरम के आसपास पुडुचेरी और श्रीहरिकोटा के बीच उत्तर तमिलनाडु, पुडुचेरी और आस-पास के दक्षिण आंध्र प्रदेश के तटों को पार करने की संभावना है। आज आधी रात या कल सुबह 65-75 किमी से लेकर 85 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चल सकती है। मौसम विज्ञान के उप महानिदेशक (चक्रवात पर क्षेत्रीय मेट्रोलॉजी केंद्र) एस बालचंद्रन ने बताया कि हवा की गति लगभग 14 किमी प्रति घंटे है। चेन्नई और आसपास के इलाकों में 50-60 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवाएं चल रही हैं। लैंडफॉल प्रक्रिया शुरू हो गई है। बारिश और तेज़ हवाएं जारी रहेंगी।

 





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here