Home World भारत के मुस्लिम सांसदों पर अमेरिका ने दिया जो जवाब, हर भारतीय को पढ़ना चाहिए

भारत के मुस्लिम सांसदों पर अमेरिका ने दिया जो जवाब, हर भारतीय को पढ़ना चाहिए

0
भारत के मुस्लिम सांसदों पर अमेरिका ने दिया जो जवाब, हर भारतीय को पढ़ना चाहिए

[ad_1]

भारत में 18वीं लोकसभा के चुनाव अब जब खत्म हो चुके हैं. लगातार तीसरी बार NDA की सरकार सत्ता में आ गई है. इतना बड़े चुनाव को शांतिपूर्वक कराने को लेकर अब अमेरिका की प्रतिक्रिया आई आई है.

अमेरिका का भारत के चुनाव पर बयान
अमेरिका ने कहा कि हम भारत में हुए चुनाव से बेहद प्रभावित हैं. यह इतिहास में किसी भी देश में चुनावी मताधिकार की सबसे बड़ी कवायद थी. इस पर अमेरिकी विदेश विभाग के प्रवक्ता मैथ्यू मिलर ने एक प्रेस कांफ्रेंस में कहा, “हम भारत में हुए चुनाव का तहे दिल से जश्न मनाते हैं. यह इतिहास में किसी भी देश में होने वाले चुनावों में सबसे बड़ा चुनाव है.

मुस्लिम सांसदों पर सवाल
एक पाकिस्तानी रिपोर्टर ने जब अमेरिकी विदेश विभाग के प्रवक्ता मैथ्यू मिलर से सवाल किया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भारत को एक हिंदू राष्ट्र बनाने की कोशिश कर रहे हैं, भारतीय संसद में मुसलमानों के प्रतिनिधित्व की संख्या कम है, जिससे अन्य धर्म असुरक्षित महसूस कर रहे हैं. इस पर प्रतिक्रिया देते हुए मैथ्यू मिलर ने कहा, “चुनावी मुद्दे भारतीय लोगों को तय करने हैं. हम भारत में हुए चुनाव का जश्न मनाते हैं. किसी भी देश में यह चुनावी मताधिकार का सबसे बड़ा प्रयोग था.” उन्होंने आगे कहा, “इस चुनाव में ऐसा कुछ नहीं हुआ, जिसपर हम टिप्पणी करें.”

अमेरिका इससे पहले भी दे चुका है बयान
मैथ्यू मिलर इससे पहले भारत में हुए चुनाव को लेकर प्रतिक्रिया दे चुके हैं. हाल ही में उन्होंने कहा था, ‘‘अमेरिका की ओर से, हम भारत सरकार और वहां के मतदाताओं को इतने बड़े चुनाव का आयोजन सफलतापूर्वक करने और उसका हिस्सा बनने के लिए बधाई देते हैं.’’ उन्होंने कहा, ‘‘मैं चुनाव जीतने और हारने वालों पर कोई टिप्पणी नहीं करूंगा जैसा कि दुनियाभर में किया जाता है. हमारे लिए महत्वपूर्ण यह है कि हमने इतिहास में लोकतंत्र की सबसे बड़ी कवायद को देखा, जहां भारत के लोग मतदान के लिए घरों से बाहर निकले.’’ मैथ्यू मिलर ने अमेरिका सहित पश्चिमी देशों की तरफ से भारत के चुनावों में दखल को लेकर तमाम खबरों का भी खंडन किया था. 

भारत के लोगों को बधाई 
अमेरिका में भारत-केंद्रित व्यापार एवं व्यवसाय समूह ‘द बोर्ड ऑफ अमेरिका-भारत स्ट्रेटजिक पार्टनरशिप फोरम’ (यूएसआईएसपीएफ) ने चुनाव को लेकर कहा था, ‘‘हमारी संस्था राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) को 2024 के आम चुनावों में लगातार तीसरी बार ऐतिहासिक जीत के लिए बधाई देती है.’’ अपने बयान में, यूएसआईएसपीएफ बोर्ड ने देश के ‘‘गौरवशाली लोकतांत्रिक इतिहास’’ में एक और नया अध्याय जोड़ने के लिए भारत के नागरिकों को भी बधाई दी थी. 

पाकिस्तानी संसद में भारत के चुनाव की तारीफ
भारत में हुए लोकसभा चुनाव की तारीफ पाकिस्तान में भी हो रही है. पाकिस्तान का कहना है कि भारत में हुए लोकसभा चुनाव में कोई धांधली नहीं हुई है, क्या हमारे देश में कभी ऐसा होगा? यह बात क्रिकेटर से राजनेता बने इमरान खान की पार्टी पीटीआई के सासंद ने की है. उन्होंने कहा कि कोई नहीं कह सकता है कि भारत के चुनाव में धांधली की गई है. 

भारत में करीब 97 करोड़ वोटर्स
इस बार लोकसभा के चुनाव में चुनाव आयोग के आंकड़ों को देखें तो भारत में करीब 97 करोड़ वोटर्स हैं. वहीं इस चुनाव में 65.79 % वोटिंग हुई. चुनाव आयोग के अनुसार इस बार के चुनाव में देश के करीब 64 करोड़ 20 लाख वोटर्स ने अपने वोट का इस्तेमाल किया है.

18वीं लोकसभा चुनाव के परिणाम
BJP ने 18वीं लोकसभा के चुनाव में इस बार 240 सीटें जीतीं हैं. वहीं कांग्रेस ने सिर्फ 99 सीटें हासिल की हैं. हालांकि, 2019 की तुलना में BJP को इस बार 63 सीटों का नुकसान है. देखा जाए तो साल 2014 के चुनाव से वो सिर्फ 42 सीटें ही पीछे रही है. वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस ने 2014 और 2019 की तुलना में अपना रिकार्ड ठिक करते हुए 55 और 47 सीटें ज्यादा हासिल की हैं.

.

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here